आध्यात्मिकता द्वारा नारी सुरक्षा पर कार्यशाला संपन्न ,भीलवाड़ा

IMG_20170308_181741

भीलवाड़ा-आज 8 मार्च अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के दिन पथिक नगर सेवाकेन्द्र पर “आध्यात्मिकता द्वारा नारी सुरक्षा” विषय पर एक कार्यशाला का आयोजन किया जिसमें 100 से अधिक स्थानीय महिलाओं नें भाग लिया l कार्यक्रम के मुख्य अतिथि महिला एवं बाल विकास विभाग के उपनिदेशक भ्राता ओम प्रकाश सैनी थे l अन्य अतिथियों में समाज सेविका बहन निरंजन सोनी व स्थानीय पार्षद मीणा लिमानी थी l कार्यक्रम का शुभारम्भ अतिथियों व सेवा केंद्र संचालिका ब्रह्मा कुमारी इंद्रा बहन, बी. के. तरुण बहन. व अमोलक भाई नें दीप प्रज्वलन की ससम के साथ किया l इंद्रा बहन द्वारा अतिथियों का शब्दों द्वारा स्वागत किया गया व उन्होंने कहा कि आज के समाज में पाश्चात्य संस्कृति कि लहर है तथा महिलाओं में स्वतंत्रता व स्वचंदाता में अंतर समझना समाप्त हो गया है | महिलाओं के प्रति लेंगिक भेदभाव, शोषण, व अन्याय जरी है तथा समाज में नारी असुरक्षित है अतः महिलाओं के आध्यात्मिक सशक्तिकरण कि आवश्यकता है जिससे वह चरित्रवान बन आत्मसम्मान से जीवन यापन करे l मुख्य अतिथि महिला एवं बाल विकास विभाग के उपनिदेशक भ्राता ओम प्रकाश सैनी नें कहा कि मुझे आज संस्था में आकर शांति, संतुष्टा के साथ नयी अनुभूति हुयी | आपने ब्रह्मा कुमरीज़ द्वारा किये जा रहे बोद्धिक, नैतिक उत्थान के कार्यों कि सराहना की | बी. के अनीता बहन ने राजयोग से प्राप्त शक्तियों का प्रेजेंटेशन दिया व कमेन्ट्री से राजयोग की गहरी अनुभूति करायी |नियमित विद्यार्थी नैना नाथ्रानी बहन व कौशल पारीक बहन ने ब्रह्मा कुमारी में आने के पश्चात् अपने संस्कारों में परिवर्तन व राजयोग अभ्यास से जीवन में प्राप्तियों का अनुभव सुनाया l कार्यक्रम में नारी सशक्तिकरण का 10 मिनट का विडियो दिखाया गया | कार्यक्रम का मुख्य आकर्षण था कन्याओं द्वारा प्रस्तुत लघु नाटिका जिसमें महिलाओं की समस्याओं, समाज में उनके प्रति भेदभाव, अत्याचारों को बहुत ही रमणीक तरीके से पेश किया गया जिसका उपस्थित महिलाओं ने करतल ध्वनि से उत्साहवर्धन किया l बी. के नीतू बहन के द्वारा नारी शक्ति का गीत प्रस्तुत किया गया l बी. के अमोलक भाई द्वारा संस्था का परिचय दिया गया l समाजसेविका निरंजन सोनी व पार्षद मीना लिमानी ने भी अपने विचार रखे l कार्यक्रम का संचालन बी. के. तरुणा बहन के द्वारा किया गया l सभी अतिथियों को ईश्वरीय प्रसाद व सौगात दी गयी l ओम शांति

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *